»
»
»
मरल आस- विश्वास

मरल आस- विश्वास

मरल आस- विश्वास जो अउर गइल मन हार.
तब बूझीं जे आदमी, भरलो-पुरल भिखार.




More Bhojpuri SMS

आठ कुआँ नौ बावड़ी

आठ कुआँ नौ बावड़ी, बा सोरह पनिहार
भरल घइलवा ढरकि गे हो, धनि ठाढ़ पछितात.

साथी तहरा गाँव में

साथी तहरा गाँव में,
कइसन मचल अन्हेर.
आवे जाये के डहर
सब दिहले बा घेर.

सपना देखि जुड़ा गइले

सपना देखि जुड़ा गइले जियरा
सपना अब ना देखावऽ हो राम !
जमीनी हकीकत सकारऽ आ लाग जा अपना काम में.

Show All Bhojpuri SMS